parvati valley

Best No1 Parvati Palley Places & Famoum Food

Best No1 Parvati Palley Places & Famoum Food

हिमाचल प्रदेश के पर्वती घाटी कसोल मनाली और मणिकरण के प्रमुख पर्यटन स्थल के बारे में जानेंगे और यहां के प्रसिद्ध भजनों के बारे में भी जानेंगे तो दोस्त बने रहिए टूरिज्म प्लेस के बारे में जानने के लिए।

parvati valley। | पार्वती घाटी

parvati valley
parvati valley

उत्तर भारत राज्य हिमाचल प्रदेश में स्थित एक प्रमुख पर्यटन स्थल है। जो ब्यास नदी के सात पार्वती नदी के संगम से पार्वती घाटी उत्तर भारत में हिमाचल प्रदेश के कुल्लू जिले में भुंतर शहर से एक खड़ी किनारे वाली घाटी के माध्यम से पूर्व की ओर बहती है। पार्वती घाटी प्रसिद्ध पर्यटन स्थल कसोल के पास मलाना गांव की ओर जाती है। यह हिंदू धर्म की तीर्थ यात्रा शहर मणिकरण और पुलगा जहां के निर्माण पर समाप्त पार्वती पनबिजली परियोजना एक पनबिजली बांध परिदृश्य पर हावी है। यहां पर एक मंदिर और रुद्रनाथ झड़ने पर एक छोटा से दावे पर चढ़ता है। झरने की पानी के सांप जैसे दिखने लगते हैं। रुद्रनाथ जलप्रपात से पगडंडी घने देवदार के जंगलों से होते हुए खीरगंगा के आध्यत्मिक स्थल तक पहुंचती है। यहां के लोगों का मानना है कि शिव ने 3000 वर्ष तक ध्यान किया था। यहां के खीरगंगा पर हॉट स्प्रिंग्स के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण है। हिंदू और सिख तीर्थ यात्रियों के लिए और कई अन्य लोगों के लिए मानना है जल पवित्र चिकित्सा गुण होते हैं।

parvati valley trek (पार्वती घाटी ट्रैक) हिमालय क्षेत्र में यह सबसे चुनौतीपूर्ण ट्रैक में से एक माना जाता है। जो रोमांचक की तलाश करने वाले पर्यटकों के लिए एकदम सही जगह है। यहां के चारों ओर के मनमोहक दृश्य पर्यटकों को अपनी सुंदरता से मंत्र मुग्ध कर देंगे। पार्वती घाटी ट्रैक काफी लंबा और काफी हैरान कर देने वाले लगती हैं। यह ट्रैक बेहद सुंदर लगते हैं। यहां के ट्रक पर चलने वाले पर्यटक को जैसे-जैसे ऊंचाइयों बढ़ती है यहां के आसपास घने जंगल हरे-भरे घास के मैदान और नदियों अपने आकर्षण से मोहित कर देंगे। पार्वती घाटी ट्रैक हिमालय के पास एक सबसे ज्यादा पसंद किए जाने वाले ट्रकों में से एक हैं। parvati valley kasol (पार्वती घाटी कसोल) का एक प्रमुख तीर्थ स्थान माना जाता है। kasol parvati valley(कसोल पर्वती घाटी) यहां पर पर्यटक ट्रैकिंग भी कर सकते हैं।

kasol | कसोल

हिमाचल प्रदेश के प्रांत का एक शहर माना जाता है। यह शहर समुद्र तल से लगभग 1795 मीटर की ऊंचाई पर स्थित एक छोटा सा पर्वतीय स्थल है। या शिमला के दक्षिण में 77 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। यहां पर ट्रेन पर जो समय शिमला की पहाड़ियों के पास पहुंचने पर कसोल दिखाई देती है अपनी सफाई और सुंदरता के कारण मशहूर कसौली में बड़ी संख्या में पर्यटक घूमने के लिए आते हैं। इसे पहले छोटा शिमला के नाम से जाना जाता था। यह पर्वतीय स्थान पर रोडोडेंड्रॉन, अखरोड़, ओक और विलो के लिए प्रसिद्ध माना जाता है। kasol weather यहां का मौसम बहुत ही अनुकूल रहता है।

hotels in kasol

  • Parvati Kuteer
  • Kabila Camps
  • Colonel’s Dacha
  • Hotel Sandhya Kasol
  • Whoopers Hostel
  • Asaka Lodge at Kasol
  • Hukam’s Holiday Home

delhi to kasol bus (दिल्ली से कसोल बस) यदि आप दिल्ली से किशोर के लिए बस की यात्रा करना चाहते हैं तो हम आपको बता दें कि दिल्ली से किशोर के लिए कई सारी बसें मिलती है जो कि मनाली बस स्टैंड तक आती है और यहां से किशोर के लिए निजी टैक्सी के माध्यम से आसानी पूर्वक पहुंच सकते हैं। यहां पर यात्रा के लिए आपको बस का ही बहुत बेहतरीन यात्रा है। बस के माध्यम से आपको यहां की खूबसूरती और नजारों को देखते हुए कसोल जा सकते हैं।

kasol camp |कसोल कैंपिंग

यहां के कैंपस में छुट्टियों के लिए यहां के घने जंगल में पर्यटक घूमते समय कैंपस का आनंद उठाते हैं। यहां का दृश्य देखने में काफी सुंदर लगता है यहां पर पर्यटक जंगलों में शाम के समय कैंपस में रुकते हैं और यहां पर आनंद उठाते हैं। यहां के कैंपिंग खूबसूरत सुंदरता की करीब से महसूस कर सकते हैं। यहां के नदी के किनारे और जंगलों में चैंपियंस के विभिन्न विकल्प मौजूद है जिनमें कोई भी शिविर का आनंद उठा सकते हैं। यहां पर बहुत सारे पर्यटक कैंपिंग का आनंद उठाने के लिए भी आते हैं। parvati valley weather यहां का मौसम पर्यटकों के लिए बहुत ही अनुकूल रहता है।

tosh village | तोष गांव

tosh village
tosh village

यह गांव भारत के हिमाचल प्रदेश राज्य के कुल्लू जिले में स्थित है। यह गांव लगभग 2400 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है। tosh parvati valley (तोष गांव पार्वती) घाटी के लोगों का मुख्य जीविका का साधन पर्यटन उद्योग है। इनके अलावा यहां का प्रमुख सेब के बाग भी है। यहां के लोगों के आय के यह दोनों प्रमुख स्रोत माना जाता है। यहां के लोग घर लकड़ी के बनाते हैं। यहां के आस पास बहुत सारी घूमने वाले प्रमुख पर्यटन स्थल भी हैं। delhi to parvati valley दिल्ली से पार्वती घाटी लगभग 374 किलोमीटर है। kasol to parvati valley distance लगभग 40 किलोमीटर की दूरी पड़ता है। Parvati Palley Places 

how to reach parvati valley | कैसे पहुंचे पार्वती घाटी

तो दोस्त हम आपको बता दें कि पार्वती घाटी का शेर करने के लिए आपको कौन-कौन सी सुविधाएं मिल सकती हैं। यहां पर आने के लिए आपको बस ट्रेन और फ्लाइट के माध्यम से भी आ सकते हैं। यदि आप केसोल की यात्रा करना चाहते हैं तो आप यहां के सबसे निकटतम पर्वती घाटी का भी यात्रा अवश्य करें यह स्थान यहां का सबसे प्रमुख पर्यटन स्थल के रूप में जाना जाता है। यदि आप यहां पर सड़क मार्ग के द्वारा यात्रा करना चाहते हैं तो यहां के सड़क मार्ग देश के बड़े-बड़े शहरों से अच्छी तरह से जुड़ी हुई है। यदि आप आवाज मार के माध्यम से यहां की यात्रा करना चाहते हैं तो हम आपको बता दें कि केसोल से निकटतम हवाई अड्डा भुंतर है। यहां पर आने के बाद आप यहां के नजदीकी बस से या टैक्सी के माध्यम से केसोल पहुंच सकते हैं। Parvati Palley Places 

Famous food Kasol

यहां का स्थानीय भोजन इजराइल के व्यंजन इटली के व्यंजन आपले पाई, चीजकेक, इत्यादि यहां के प्रसिद्ध भोजन में शामिल रहते हैं। यहां पर यदि आप घूमने के लिए आते हैं तो यहां के स्थानीय भोजन का आनंद जरूर ले। Parvati Palley Places 

malana | मलाणा

यह स्थान हिमाचल प्रदेश के सभी पर्यटन स्थलों में से बिल्कुल अलग मलाणा नाला में एक अकाउंट पर गांव है। यह स्थान पार्वती घाटी की एक तरफ की घाटी है। मलाणा गांव कुल्लू जिले में स्थित है। जो अपने मजबूत संस्कृति और धार्मिक मान्यताओं के अनुसार बहुत प्रसिद्ध माना जाता है। यह जगह उन पर्यटकों के लिए बहुत खास है जो आध्यात्मिक मार्गदर्शन चाहते हैं। यह स्थल सभी एडवेंचर प्रेमियों के लिए आदर्श जगह माना जाता है। क्योंकि मौलाना तक ट्रैकिंग करके भी जा सकते हैं। malana village (मलाणा गांव) मैं इन सभी के अलावा मदग्नि मंदिर और रेणुका देवी के मंदिर प्रमुख आकर्षण पर्यटन स्थल के रूप में जाने जाते हैं। यह दोनों मंदिर एक दूसरे के निकट में स्थित है। जहां विभिन्न देवी देवताओं को भी पूजे जाते हैं। यदि आप मलाणा के ऐतिहासिक और यहां के घूमने के बारे में जानना चाहते हैं तो आप आप यहां पर घूमने के दौरान पर्यटन स्थल और ऐतिहासिक के बारे में जान जाएंगे। Parvati Palley Places 

malana himachal pradesh | मलाणा हिमाचल प्रदेश

यह स्थान हिमाचल प्रदेश के कुल्लू जिले में स्थित एक प्रमुख पर्यटन स्थल के रूप में जाने जाते हैं यहां के लोग आर्यों के पूर्वज है। जिन्हें अपनी स्वतंत्र मुगल शासन काल के दौरान मिली जब अकबर ने लोगों की परेशानी दूर करने के लिए इस जगह पर आया था अकबर ने एक ब्यान भी दिया था कि गांव के लोगों को अब टैक्स भुगतान करने की जरूरत नहीं पड़ेगी। यह एक ऐसा लौता गांव है। इस गांव में अकबर की पूजा की जाती है। इन सभी के अलावा अन्य सबूत करते हैं कि यहां के लोग सिकंदर की सेना के वंशज है। इस जगह पर भारतीय कानून बिल्कुल नहीं चलते हैं यहां की अपनी संसद है जो सारे फैसले करती है। यहां पर दिल्ली के व्यापारी आर्यन शर्मा ने 2004 में मलाणा को अपनाया था। साल 2018 जनवरी में मलाणा आग लगने के दौरान यहां के प्राचीन मंदिर के कई सांस्कृतिक रचनाएं नष्ट हो गई थी। यहां पर पर्यटकों के लिए कई सारी गतिविधियों का शुभदा दिया गया है यहां पर एक हिल स्टेशन है। यहां के हिल स्टेशन जैसा कहीं पर दूसरा नहीं है। malana weather यहां का मौसम बहुत ही सुखद रहता है। Parvati Palley Places 

malana trek | मलाणा ट्रैक

यहां के घने जंगलों में ट्रैकिंग के बिना यहां की यात्रा आपके लिए अधूरी हो जाएंगे। ट्रैक आपको एक शानदार घाटी से लेकर जाता है और यह पानी के आकर्षक झरने के पास तक पहुंचाता है। यह सभी दृश्य देखने लायक होता है। kasol to malana लगभग 22 किलोमीटर की दूरी पड़ता है। malana valley यहां की घाटी देखने में काफी आकर्षित रहता है। Parvati Palley Places 

manikaran sahib | मणिकरण साहिब

यह स्थान हिमाचल प्रदेश राज्य के कुल्लू जिले में पर्वती नदी के किनारे पर्वती घाटी में स्थित एक प्रमुख पर्यटन स्थल के रूप में जाना जाता है। यहां पर सिखों और हिंदुओं के लिए एक महत्वपूर्ण तीर्थ स्थल के रूप में भी माना जाता है। यहां के गर्म झरने धार्मिक प्रवृत्तियां और खूबसूरत वातावरण पर्यटकों को बेहद आकर्षित बनाता है। यहां पर घूमने के लिए कई मंदिर की संख्या और गुरुद्वारा मणिकरण साहिब इस जगह को एक धार्मिक स्थान है। मणिकरण साहिब गुरुद्वारा सीखो और हिंदू दोनों के लिए पवित्र माना जाता है। यह अपनी मान्यताओं के पीछे अपनी कई कारण है। Parvati Palley Places 

parvati valley map

parvati valley map
parvati valley map

manikaran power ltd | मणिकरण पावर लिमिटेड

मणिकरण पावर ट्रेडिंग सेवाएं प्रदान करती है। कंपनी लघु और मध्यम विधि के व्यापारों द्विपक्षीय अनुबंधों और बिजली की पैकिंग के माध्यम से बिजली भेजती है और खरीदनी है। मणिकरण पावर भारत में ग्राहकों की सेवा करती है। Parvati Palley Places 

manikaran | मणिकरण

यहां पर घूमने के लिए कई प्रमुख पर्यटन स्थल है और कुल्लू के पास स्थित प्रमुख धर्म स्थल के रूप में भी मणिकरण को जाना जाता है। मणिकरण के अलावा इसके आसपास पर्यटन स्थल की यात्रा आप सभी यात्रियों को अवश्य करनी चाहिए। Parvati Palley Places 

manikaran gurudwara | मणिकरण गुरुद्वारा

यहां पर घूमने वाले पर्यटकों के लिए यहां पर खाने में बहुत ज्यादा विकल्प उपलब्ध नहीं रहती है। इस क्षेत्र में मंदिर और गुरुद्वारा द्वारा आयोजित लंगर पर भी भोजन कर सकते हैं। यहां के लंगर में भोजन स्वादिष्ट होने के साथ-साथ हाइजीनिक भी होते हैं। यहां पर यदि आप घूमने के लिए आते हैं तो आप अपना स्वयं का भोजन साथ में ले जाना आपके लिए और ज्यादा सुविधाजनक हो जाता है। यहां पर हिमाचल लिए भोजन का फीस अदा है लेकिन इसमें कई विशिष्ट व्यंजन शामिल रहते हैं। यहां के मुख्य भोजन में चपाती दाल सब्जी की ग्रेवी और दही भी शामिल रहते हैं। यहां के भोजन में अधिकांश आचार का भी उपयोग किया जाता है। manikaran weather यहां पर घूमने वाले पर्यटकों के लिए यहां का मौसम बहुत ही अनुकूल रहता है। manikaran temple यहां पर बहुत सारी मंदिर मौजूद है जो कि इसे धार्मिक स्थान के रूप में भी जाना जाता है। Parvati Palley Places 

hotels in manikaran

  • The Orchard Greens Resort & Spa
  • Hotel Sandhya Palace
  • The Hillside
  • Himalyan Kothi Kais
  • Negi Nest Kasol
  • The Holiday Villa Resort & Spa
  • Monk Hut In Bela Moon Cafe
  • Regenta Inn Blossoms
  • Heritage Satikva Resorts

kheerganga | खड़ीगंगा

मणिकरण के पवित्र शहर से लगभग 22 किलोमीटर की दूरी पर स्थित जो हिमालय के पहाड़ों के गर्म झरना और मनोरम दृश्य के लिए प्रसिद्ध पर्यटन स्थल के रूप में जाना जाता है। हरी गंगा के इला के घने जंगल, कैंपिंग, नेचर वॉकिंग, और माउंटेन क्लाइम्बिंग के जरिए ट्रेकिंग के लिए बेहद खास जगह माना जाता है। हरी गंगा मैं पर्यटक अपने यात्रा के दौरान कुछ लैंडस्केप फोटोग्राफी का भी आनंद ले सकते हैं। यहां के हरे-भरे जंगलों के माध्यम से सूर्यास्त और ट्रैकिंग के अविश्वसनीय दृश्य का अनुभव लेना बेहद खास साबित होता है। kheerganga trek यहां के घने जंगलों में ट्रैकिंग करना बहुत खास मानी जाती है। kheerganga temperature यहां का तापमान समय के अनुसार बदलता रहता है परंतु यहां पर हमेशा ठंड का ही एहसास होता है। kheerganga weather यहां का मौसम बहुत ही अनुकूल रहता है।

kasol kheerganga (कसोल खीरगंगा) एक पवित्र पर्यटन स्थल के रूप में जाना जाता है। kheerganga trek distance हरी गंगा ट्रक में ट्रेकिंग करना खड़ी गंगा नेशनल पार्क एक अहम हिस्सा है हरी गंगा नेशनल पार्क में ट्रैकिंग के दौरान आप पार्क की समृद्धि वनस्पतियों और जीवो की विभिन्न प्रजातियों को नजदीक से देख सकते हैं। यह ट्रैक बर्सनी से शुरू होती है। मणिकरण के पास एक गांव है। जो 11 किलोमीटर की दूरी में पर्यटक रुद्र नाग झरना, पांडुपोल, पिन पार्वती घाटी इत्यादि जैसे विभिन्न आकर्षण को देख सकते हैं। kheerganga trekking यह जगह ट्रेकिंग के लिए बहुत ही खास मानी गई है। kheerganga height खरी गंगा 5500 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है। kasol to kheerganga लगभग 12 किलोमीटर की दूरी पर था है। kheerganga kasol ट्रेकिंग के लिए यह दोनों जगहों के बीच बहुत ही अच्छी अस्थान माना गया है। Parvati Palley Places 

Sri Guru Nanak Devji Gurudwara | श्री गुरु नानक देवी गुरद्वारा

Parvati Palley Places
Parvati Palley Places

श्री गुरु नानक देव जी और माता सुलखनी देवी जी का धर्मस्थल विवाह पर्व शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक केमिटी की  तरफ से मशहूर संगत के सहयोग एक ऐतिहासिक गुरुद्वारा श्री कंद साहिब और गुरुद्वारा सतकरतारिय साहिब में बड़ी असमर्थ उत्सव मनाया जाता है। यहां के मेले में काफी भीड़ देखने के लिए मिलता है इसके दौरान जिला गुरदासपुर के शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के द्वारा यहां का सबसे प्रसिद्ध मेला लगाने का आयोजन किया जाता है। Parvati Palley Places 

Best No1 Kinnaur Tourist Places &Famoum Food

निष्कर्ष

तो दोस्त इस पोस्ट में हम हिमाचल प्रदेश के कसोल मनाली और मणिकरण साहिब के प्रमुख पर्यटन स्थल के बारे में जानने और यहां के सबसे प्रसिद्ध भोजन ओं के बारे में भी जाने यदि आपको यह पोस्ट अच्छी लगी हो तो आप हमें कमेंट बॉक्स में कमेंट करके बता सकते हैं। तो दोस्त बने रहिए टूरिज्म प्लेस के बारे में जानने के लिए। धन्यवाद

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!