churdhar peak

Best No1 Nahan Tourist places & Famous Food

Best No1 Nahan Tourist places & Famous Food

हिमाचल प्रदेश राज्य के नाहन के प्रमुख पर्यटन स्थल के बारे में जानेंगे और यहां के प्रसिद्ध भोजन आने जाने की व्यवस्था के बारे में जानेंगे तो दोस्त बने रहिए टूरिस्ट प्लेस के बारे में जानने के लिए।

nahan | नाहन

nahan
nahan

नाहन सिरमौर के पास इस्थित एक ऐतिहासिक जगह है जो अपने हरे-भरे जंगलों और ट्रेकिंग के लिए प्रसिद्ध मानी जाती है। नहान 3647 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है अगर आप भीड़भाड़ वाले पर्यटन स्थलों से दूर किसी रोमांटिक और प्राकृतिक जगह का तलाश कर रहे हैं तो नाहन से अच्छा कोई जगह नहीं मिलेंगे यह जगह उन पर्यटकों के लिए है जो शांति वातावरण में रहना पसंद करते हैं। यह जगह हरे-भरे मैदान गंदगी मुक्त सड़कों और साफ-सुथरे सड़कों के साथ नहाने कैसा पर्यटन स्थल है जिसका अपना अतिथि और कहानियों में अलग ही दिलचस्प है। यह स्थान अपनी प्राकृतिक सुंदरता से पर्यटकों को बेहद आकर्षित करता है। यहां के लोगों का मानना है कि नाहन शहर को राजा कर्ण प्रकाश द्वारा 1621 में एक राजधानी के रूप में स्थापित किया गया था। इस सर को अपना नाम नाहन नाम के एक ऋषि के द्वारा प्राप्त हुआ था। आज का विचित्र शहर बगीचा मंदिरों और एक मनमोहक झील यहां पर काफी देखने के लिए मिलता है। जो पर्यटकों को एक अद्भुत प्रदान करते हैं। यह अपनी प्राकृतिक सुंदरता के अलावा नहान विला राउंड मिलिट्री राउंड और हॉस्पिटल राउंड जैसी लोकप्रिय आकर्षण के लिए भी प्रसिद्ध माना जाता है। weather in nahan यहां का मौसम घूमने वाले पर्यटकों के लिए बहुत ही अनुकूल रहता है। Nahan Tourist places

nahan himachal pradesh | नाहन हिमाचल प्रदेश

नाहन में कई तरह के त्योहार को बहुत उत्साह के साथ मनाते हैं यहां पर कई त्योहार में से तीन तोहार ऐसे हैं जो बेहद लगन के साथ मनाते हैं वामन द्वादशी, को मानसून के समाप्ति के लिए मनाया जाता है इस त्यौहार में स्थानीय देवताओं की 52 पंथ छवियों को एक जगन्नाथ मंदिर में जुलूस निकाले जाते हैं यहां एक तालाब स्थित है जिसमें इन देवताओं को तैरते हुए देखा जाता है। गुग्गा पीर मेला गोगाजी या गुग्गा के सम्मान में मनाया जाता है यहां के यह मेला एक स्थानीय मेला है जो गुग्गा राजस्थान के एक लोक देवताओं है और नाहन के एक प्रसिद्ध योद्धा है एक ऐसा देवता है जो हिंदू और मुस्लिम दोनों द्वारा इसे पूजा जाता है इस देवता के कई नाम और रूप हैं इन्हें एक शांत भी कहा जाता है और यह एक सांप देवता भी कहा जाता है गोगाजी हिंदुओं के बीच गोगा और मुसलमानों के बीच जाहर पीर के रूप में जानते हैं। कैमखानी मुसलमान मानते हैं कि वह उसके वंशज के हैं दशहरे के 2 दिन पहले यहां पर ग्राम पंचायत द्वारा एक और मेला आयोजित किया जाता है इस मेले को जामता मेला के रूप में जाना जाता है। nahan hill station नहान को इसे हिल स्टेशन के रूप में भी जाने जाते हैं। Nahan Tourist places

places to visit in nahan | नाहन में घूमने की जगह

यदि आप नाहन घूमने की योजना बना रहे तो इस शहर में इसके साथ साथ इसके आसपास के पर्यटन स्थल की यात्रा भी करें यहां पर घूमने के लिए बहुत सारी प्रमुख पर्यटन स्थल है और वहां पर भी पर्यटन घूमकर आनंद लेते हैं। nahan himachal (नाहन हिमाचल) प्रदेश का सबसे प्रमुख पर्यटन स्थल के रूप में जाने जाते हैं। यहां पर घूमने के लिए बहुत सारी प्रमुख पर्यटन स्थल भी मौजूद हैं। Nahan Tourist places

renuka lake | रेणुका झील

रेणुका झील सिरमौर में 672 मीटर की ऊंचाई पर स्थित पानी की एक भरी जादुई झील है। जो हरे पैरों और पहाड़ियों से अच्छी तरह से घिरा हुआ है। अगर आप एक प्राकृतिक प्रेमी है तो यहां के शानदार दृश्य अवश्य देखें इसके साथ ही आप सूर्योदय या सूर्यास्त के दृश्य को देखने का मौका ना छोड़े अगर आप रेणुका झील की यात्रा करते हैं तो निश्चित ही आप इसकी सुंदरता से मंत्र मुग्ध हो जाएंगे यह स्थान उन पर्यटकों के लिए है जो कि ख्वाबों की दुनिया में रहते हैं। Nahan Tourist places

renuka ji lake | रेणुका जी झील

रेणुका जी प्राचीन और साफ रेणुका झील के पास स्थित लोगों के बीच एक लोकप्रिय तीर्थ स्थान भी मौजूद है। इस जगह पर एक गोमिंग अभ्यारण और एक वन्य रिजर्व भी है। इस वन्य जीव अभ्यारण में विभिन्न प्रकार के वनस्पति और जीव देखने के लिए मिलता है। रेणुका जी के पास कार्तिका एकादशी एक त्यौहार का आयोजन किया जाता है जिसमें घूमने वाले पर्यटक को इसमें अवश्य शामिल हो यहां पर घूमने के लिए कई प्रमुख पर्यटन स्थल भी है। Nahan Tourist places

suketi fossil park | सुकेती जीवाश्म पार्क जो हिमाचल प्रदेश राज्य के नाहन में स्थित है। यह पर्यटकों के लिए एक प्रसिद्ध गंतव्य है। पर्यटक यात्री के दौरान यहां तक आसानी से पहुंच सकते हैं। क्योंकि यह निहन से 25 किलोमीटर दूर है। भारतीय भूवैज्ञानिक सर्वेक्षण और हिमाचल प्रदेश सरकार के द्वारा बनाया गया था। इसका सावधानीपूर्वक ध्यान रखा गया है और देखभाल भी की जाती है यह पार्थ एशिया का पहला फर्क है जहां जीवाश्मों की खोज की है। यहां पर बहुत से छात्र और विद्वानों के द्वारा कुछ भी शोध कार्य के लिए पाक की यात्रा करना बहुत ही सुखद माना जाता है। on the bank of which river is suketi fossil park यह पार्क मार्कडेय नदी पर स्थित है। Nahan Tourist places

Trekking in Nahan | नाहन में ट्रैकिंग

Trekking in Nahan
Trekking in Nahan

यहां पर यात्रियों के पास ट्रेकिंग के लिए बहुत कुछ रोमांटिक रास्ते के साथ कई विकल्प हैं। नाहन से रेणुका जी तक का ट्रैक यह ट्रैक बहुत ही आसान है परंतु काफी अद्भुत भी है। चु्ड़धार छोटे विभिन्न ट्रैक की प्रधान करती है जो ऊपर से शानदार दृश्य देखने के लिए मिलती है। यहां पर ट्रेकिंग के लिए पर्यटक काफी मात्रा में घूमने के लिए आते हैं। जो व्यक्ति ट्रैकिंग का शौक रखते हैं यह जगह उस व्यक्ति के लिए स्वर्ग के समान है। Nahan Tourist places

jaitak fort | जैतक किला

यह किला हिमाचल प्रदेश राज्य के सिरमौर जिले में नाहन से लगभग 22 किलोमीटर दूर एक ऐतिहासिक किला के रूप में जाना जाता है। यह किला समुद्र तल से लगभग 1479 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है। यह किला पहाड़ियों की हरियाली से भरपूर नजरों के बीच स्थित आसपास के क्षेत्र के शानदार दृश्य प्रस्तुत करता है। जैतक किला का निर्माण 1810 में गोरख नेणजोर सिंह था आपने करवाया था। यहां के लोगों का मानना है कि रणजोर सिंह थापा और उनके सेना ने नाहन किले और महल को तबाह कर दिया और जैतक किले का निर्माण किया था। यहां पर पर्यटकों के लिए खुद ड्राइव करके जना सबसे अच्छा तरीका है। क्योंकि इस की ओर जाने वाले रास्ता कई प्राकृतिक दृश्यों से भरपूर देखने के लिए मिलता है। इस किले तक पहुंचने के लिए पर्यटक पहाड़ी से चल सकते हैं। या किला आनंद पाया जाने वाला महत्व अच्छी तरह से मेंटेन रखा हुआ है। जैतक किला से जुड़ी विस्तृत जानकारी को भेज जान ले। इस किले के आसपास कई प्रमुख पर्यटन स्थल और दर्शनीय स्थल मौजूद हैं। jaitak fort nahan (जैतक किले नाहन) यदि आप इस किला पर घूमने का आयोजन बना रहे तो इस किले के साथ और इसके आसपास कई पर्यटन स्थल भी घूम सकते हैं। Nahan Tourist places

churdhar peak | चोड़धारा चोटी

churdhar peak
churdhar peak

या छोटी 3646 मीटर की ऊंचाई पर स्थित एक सुंदर जगह के रूप में जाने जाते हैं। यह जगह सिरमौर मैं ही नहीं बल्कि हिमाचल प्रदेश के सबसे सुंदर और पवित्र स्थान के रूप में जाने जाते हैं। क्रॉनिक कथा के अनुसार इसके बारे में बताया गया है कि वही स्थान है जहां से भगवान हनुमान गंभीर रूप से घायल लक्ष्मण के लिए जड़ी-बूटी खोजने के लिए आए हुए थे। और बाद में पूरी पहाड़ी को रामायण में ले गए थे बता दें कि इस जगह की सुंदरता जंगल और वन्यजीवों के कारण बढ़ गई है जो इस में निवास करते हैं इस स्थान को कई यात्रियों के लिए प्रसिद्ध पैकिंग स्थल भी मानी जाती है। Nahan Tourist places

dhaula kuan metro station | धौला कुआं मेट्रो स्टेशन

यह मेट्रो स्टेशन ऑरेंज लाइन पिंक मेन लाइन दिल्ली मेट्रो की लाइन और दिल्ली में स्थित एक इंटरचेंज स्टेशन है। जो पूछताछ या आपात स्थिति के लिए आप धौला कुआं मेट्रो स्टेशन फोन नंबर पर संपर्क कर सकते हैं। springdales dhaula kuan (स्प्रिंगडेल्स धौला कुआं) एक वास्तविक मेट्रो स्टेशन है यहां से बहुत दूर-दूर तक मेट्रो के लिए सवारी कर सकते हैं। aps dhaula kuan (एप्स धौला कुआं) यदि आप की ट्रेन मिस हो जाती है तो आप यात्रा में सक्षम नहीं हो पाते हैं इसीलिए आप यहां के धोला कुआं एप्स डाउनलोड करें और इससे आप पता लगा सकते हैं कि ट्रेन कहां से कहां खुल रही है। dhaula kuan यहां का सबसे प्रसिद्ध रेलवे स्टेशन है। dhaula kuan pin code 110010

rani tal | रानी ताल

रानीताल एक सही विरासत के साथ लोक पर्यटन स्थल के रूप में भी जाने जाते हैं। यह हिमाचल प्रदेश राज्य के नाहन में स्थित है। इसे रानी झील के रूप में भी जाना जाता है यह क्षेत्र पर राज करने वाले शाही परिवार के लिए था। हाल ही में इसे एक सुंदर पिकनिक स्थल में बदल दिया गया है। क्योंकि शाही परिवार जनता पर शासन अब नहीं कर रहे हैं। यहां पर कितने की गोद में शांति और अवकाश परियोजना के लिए समय बिताने के लिए यहां पर जाते हैं। यह स्थान पर्यटकों के लिए छुट्टी बिताने का सबसे सही स्थान है। Nahan Tourist places

Simbalwada Wildlife Sanctuary | सिंबलवार  वन्यजीव अभ्यारण

यह वन्य जीव अभ्यारण नाहन में स्थित एक प्रमुख पर्यटन केंद्र के रूप में जाने जाते हैं जो यात्री को हिमाचल प्रदेश के स्वदेशी वनस्पतियों और पशुओं को यहां पर काफी मात्रा में देखे जाते हैं। यहां साल के 1 से गिरे यह वन्य जीव अभ्यारण प्रवासी पक्षियों के अनुकूल गंतव्य है। जो पर दुनिया भर में पाए जाते हैं। यह वन्य जीव अभ्यारण सबसे सुंदर प्रकृति क्षेत्र के रूप में प्रसिद्ध अंग तू आकर्षण रसीला परिवेश के साथ पानी की टेढ़े मेढ़े धाराओं को देखकर बहुत ही सुंदर प्रदान करते हैं। यहां पर विभिन्न प्रकार के प्रजातियां पाई जाती हैं। यहां पर आने वाले पर्यटक यहां के सभी पशु पक्षी को नजदीक से देख सकते हैं।

नाहन में मशहूर स्थानीय भोजन  | local food Nahan

Nahan Tourist places
Nahan Tourist places

यहां पर घूमने वाले पर्यटकों के लिए एक छोटे से शहर में यहां के कुछ खाने के लिए होटल में उपलब्ध होते हैं। यहां के स्थानीय हिमाचल भोजन के अलावा यह शहर उत्तर भारत और चीनी व्यंजनों में भोजन उपलब्ध कराते हैं। यहां का प्रसिद्ध भोजन मोमोज नूडल्स ब्रेड पकोड़ा अन्य व्यंजन है। आमतौर पर खाने वाले प्रसिद्ध भोजन चपाती, दाल, मीठा चावल, सब्जी ग्रेवी यहां का प्रसिद्ध भोजन माना जाता है।

Best time to visit Nahan | नाहन में घूमने के लिए सबसे अच्छा समय

यहां पर ट्रेकिंग के लिए काफी प्रसिद्ध स्थान माना जाता है और यह आज व्यवसायिकता से अप्रभावित है। नहान की यात्रा आप वर्ष में कभी भी कर सकते हैं। यहां गर्मियों सुखद होती है। सर्दियों का मौसम अस्थान की वास्तविकता सुंदरता में एक अलग पहलू जोड़ता है। यहां की गतिविधियों के लिए सबसे पसंदीदा समय यहां आने वाले पर्यटकों के लिए मौसम के अनुसार कपड़ों को अपने साथ आने की सलाह देती है। यहां पर पिक सीजन में बेहद गर्मी मिल सकती है।

How to reach Nahan | नहान कैसे पहुंचे

नाहन हिमाचल प्रदेश का एक शहर और पर्यटन स्थल के रूप में भी जाने जाते हैं। लेकिन इसका कोई रेलवे स्टेशन या हवाई अड्डा नहीं है इस शहर में सर के काफी अच्छी है और बस से टैक्सी आसानी से उपलब्ध हो जाते हैं राज्य की चलने वाली बस एक काफी अच्छी आरामदायक रहती है। यदि आप हवाई मार्ग के माध्यम से यात्रा करना चाहते हैं तो हम आपको बता दें कि यहां के सबसे निकटतम हवाई अड्डा चंडीगढ़ हवाई अड्डा है जो नाहन से लगभग 50 किलोमीटर दूर स्थित है।

यहां पर आप देहरादून और शिमला हवाई अड्डे वह भी चुन सकते हैं आप नाहन की यात्रा के लिए इन सभी शहरों से टैक्सी किराए पर लेकर आसानी से पहुंच सकते हैं। यदि आप सड़क मार्ग के माध्यम से यात्रा करना चाहते हैं हम आपको बता दें कि आपकी यात्रा सबसे अच्छे रहती है यहां के एक मार्ग पर देहरादून से गुजरने वाले मार्ग से सभी शिमला के सोलाना और हरियाणा के काला अंम के माध्यम से होकर जाती है हालांकि दिल्ली से यात्रा करते समय सबसे छोटा रास्ता साहा से होकर जाएगा। यदि आप ट्रेन के माध्यम से यात्रा करना चाहते हैं तो हम आपको बता दें कि यहां के सबसे निकटतम रेलवे स्टेशन कालका बरारा चंडीगढ़ और अंबाला है। इस रेलवे स्टेशन से आप नाहन के लिए टैक्सी के माध्यम से आसानी से पहुंच सकते हैं।

Best No1 Kangra Religious Tourist places & Food

निष्कर्ष

तो दोस्त आज हमने हिमाचल प्रदेश के नाहन के प्रमुख पर्यटन स्थल के बारे में जानने और यहां पर आसपास के सभी पर्यटन स्थल के बारे में भी जाने और यहां के प्रसिद्ध भोजन और आने-जाने की सुविधा के बारे में भी जाने यदि आपको यह पोस्ट अच्छी लगी हो तो आप हमें कमेंट बॉक्स में कमेंट करके जरूर बताइए। तो दोस्त बने रहिए टूरिंग प्लेस के बारे में जानने के लिए इसी तरह के नए-नए जगहों के बारे में लाता रहता हूं। यदि आप यहां पर घूमने के लिए जाते हैं तो आपकी यात्रा कुशल मंगल हो। धन्यवाद

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!