bhilar falls

Best No1 Manikaran Sahib Tourist places & Food

Manikaran Sahib Tourist places & Food

हिमाचल प्रदेश के सांगला, सोलन, मणिकरण साहिब के प्रमुख पर्यटन स्थल के बारे में जानेंगे और यहां के प्रसिद्ध भोजन आने जाने की व्यवस्था के बारे में भी जानेंगे। तो दोस्त बने रहिए टूरिज्म प्लेस के बारे में जानने के लिए।

manikaran sahib | मणिकरण साहिब

manikaran sahib
manikaran sahib

यह शहर हिमाचल प्रदेश राज्य के कुल्लू जिले में पार्वती नदी के किनारे पार्वती घाटी में स्थित है। यह शहर सिखों और हिंदुओं के लिए एक महत्वपूर्ण तीर्थ स्थल के रूप में जानते हैं। यहां के गर्म झरने धार्मिक प्रवृत्तियां और खूबसूरती वातावरण पर्यटकों को बेहद आकर्षित बनाते हैं। यहां पर कई मंदिर की संख्या और गुरुद्वारा मणिकरण साहिब इस जगह को एक धार्मिक स्थल के रूप में जाना जाता है। यहां के गुरुद्वारा सिखों और हिंदुओं दोनों के लिए पवित्र माना जाता है प्रत्येक धर्म के पास अपनी मान्यताओं के पीछे एक कारण रहता है। उसी प्रकार इस गुरुद्वारा में भी किसी वजह है हिंदुओं का मानना है कि भगवान शिव और देवी पार्वती लगभग 11 वर्ष तक यहां पर रहे थे। और सिखों का मानना है कि गुरु नानक जी ने यहां कई चमत्कार किए हुए हैं। मणिकरण साहिब कुल्लूर का एक प्रमुख धर्म स्थल है। manikaran sahib weather (मणिकरण साहिब मौसम) घूमने वाले पर्यटकों के लिए बहुत सुखद रहता है। Manikaran Sahib Tourist places

gurudwara manikaran sahib (गुरुद्वारा मणिकरण साहिब) गुरुद्वारा श्री गुरु नानक देव मणिकरण साहिब सिखों के पवित्र तीर्थ स्थल के रूप में जाना जाता है गुरुद्वारा श्री गुरु नानक देव मणिकरण साहिब हिमाचल प्रदेश के कुल्लू जिले में लगभग 1760 मीटर की ऊंचाई पर पर्वत नदी के तट पर है। गुरुद्वारा सिखों के अनुसार सिख धर्म के संस्थापक गुरु नानक जी ने अपने भाई मर्दाना के साथ तीसरी उदीसी के दौरान 1554 में यहां आए थे। मर्दाना को भूख लग गई थी लेकिन भोजन के लिए कुछ नहीं था इसीलिए उसको गुरु नानक जी द्वार लंगर के लिए भोजन एकत्र करने के लिए भेजा गया था। इसके बाद रोटियां बनाने के लिए लोगों ने आटा दान किए थे सामग्री होने के बावजूद वे आगे की भोजन को पकाने में असमर्थ रहे।

इसके बाद गुरु नानक जी ने मर्दाना को एक पत्थर उठाने के लिए कहा गया था और ऐसा करते ही एक गर्म पानी का झरना निकलना शुरू हो गया इसके बाद मर्दाना ने भगवान से प्रार्थना की अगर उसकी रोटी वापस तैयार कर आ गई तो वह एक रोटी भगवान को दान करेंगे जब उसने प्रार्थना की तो पकी हुई रोटी पानी पर तैरने लगी गुरु नानक जी ने कहा कि अगर कोई भी भगवान के नाम पर कोई दान करता है। तो उसका डूबता हुआ शासन वापस तैरने शुरू हो जाता है। manikaran sahib gurudwara (मणिकरण साहिब गुरुद्वारा) हिमाचल प्रदेश का प्रसिद्ध माना जाता है। manikaran sahib images (मणिकरण साहिब छवि) देखने में काफी सुंदर लगता है। gurudwara shri manikaran sahib यहां पर घूमने के लिए दूर-दूर से पर्यटक आते हैं और यहां के शांति वातावरण का भी आनंद लेते हैं। Manikaran Sahib Tourist places

places to visit in Manikaran Sahib | मणिकरण के पास के प्रमुख पर्यटन स्थल

  • तीर्थन घाटी – Tirthan Valley
  • खीरगंगा – Khirganga
  • महादेव मंदिर – Bijli Mahadev Temple
  • कैसरधर – Kais Dhar
  • भृगु झील – Bhrigu Lake
  • हनोगी माता मंदिर – Hanogi Mata Temple
  • चंद्रखनी पास – Chandrakhani Pass
  • वैष्णो देवी मंदिर कुल्लू – Vaishno Devi Temple Kullu
  • नग्गर – Naggar
  • भंटर – Bhuntar
  • सुल्तानपुर पैलेस – Sultanpur Palace
  • पार्वती घाटी ट्रेक – Parvati Valley Trek

shoja | शोजा

shoja
shoja

shoja himachal pradesh (शोजा हिमाचल प्रदेश) के सबसे सुंदर पर्यटन स्थल है जो हिमाचल प्रदेश के सेराज की घाटी पर स्थित है। यहां पर लकड़ियों से बने कई मंदिर के लिए प्रसिद्ध मानी जाती है। यह कैसा जगह है जिसकी सुंदरता पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित कर लेता है। और यह एक शांत और यह शहर की दुनिया से दूर आराम करने की अच्छी जगह मानी जाती है। यहां के सबसे सुंदर जोड़ी पास स्थल है जो कि यहां से लगभग 5 किलोमीटर दूर पर स्थित है और यहां का मौसम बेहद सुखद रहता है। यहां पर एक तरफ बर्फ से ढके हिमालय के क्षेत्र के साथ यह गांव किले झील झरने जैसे पर्यटन पर्यटकों को आकर्षित करते हैं। shoja himachal (शोजा हिमाचल) का प्रसिद्ध पर्यटन स्थल के रूप में भी जाना जाता है यहां पर बहुत सारी धार्मिक स्थान भी है जहां की खूबसूरती को बढ़ाती है। shoja temperature यहां का तापमान बहुत ही कम रहता है और यहां के समय के अनुसार बढ़ते घटते रहता है यहां का तापमान लगभग गर्मियों के समय में 15 डिग्री से 25 डिग्री सेल्सियस के बीच रहता है और सर्दियों के दिनों में माइनस डिग्री चल जाती है। shoja weather यहां का मौसम घूमने वाले पर्यटकों के लिए बेहद सुखद रहता है। delhi to shoja (दिल्ली से शोभा) लगभग 477.1 किलोमीटर की दूरी पड़ता है। Manikaran Sahib Tourist places

यह एक प्राकृतिक प्रेमियों के लिए यह स्थान स्वर्ग के समान है जो कि पर्यटकों को बेहद आकर्षित करता है। यहां पर पर्यटक पौधे की विभिन्न किस्म की खोज करता है और शानदार पक्षियों को आसानी से देख सकते हैं। शोजा गांव में आप इसकी खूबसूरती यों को अच्छी तरह से देख सकते हैं यहां पर देखने के लिए हरे घास के मैदान पर पैदल यात्रा करने से आपको बहुत खुशी मिलेंगे। यहां स्थित जालोरी पास से लगभग 5 किलोमीटर दूर शोजा ग्रेट हिमालयन नेशनल पार्क का एक हिस्सा है। और इसकी वन्यजीव और जीवो की दुर्बलता पर जातियों को अच्छी तरह से देख सकते हैं। यहां पर इंडियन ब्लू रॉबिन, नटक्रैकर, व्हाइट-थ्रोटेड टाइट देखने के लिए मिलता है। यहां पर वनस्पति प्रेमियों यहां की ओक कॉनिफर, बांस, हेल्पलाइन घास के मैदान की खूबसूरती को अच्छी तरह से अनुभव कर सकते हैं। यहां के ऊंचाइयों पर नीली भेड़ हिमालया भूरा भालू, कस्तूरी मृग, हिम तेंदुआ इत्यादि जानवर पाए जाते हैं Manikaran Sahib Tourist places

solan | सोनल

यह एक हिल स्टेशन के रूप में जाना जाता है जो कि हिमाचल प्रदेश राज्य में स्थित है यह एक पर्यटन स्थल होने के साथ-साथ यह सर अपने विशाल मशरूम वृक्षारोपण के कारण भारत के मशरूम शहर के रूप में भी जानते हैं। इस शहर में मशरूम के अलावा सोनल अपने विशाल टमाटर उत्पादन के लिए भी प्रसिद्ध माना जाता है जिसकी वजह से इसको लाल सोना का शहर भी कहते हैं। इसकी खूबसूरती शहर में कई मंदिर और मठ स्थित है जो हर साल भारी संख्या में पर्यटक और भक्तों को अपनी तरफ आकर्षित करता है। सोनल में एक पहाड़ी के ऊपर एक 300 साल पुरानी किला भी मौजूद है जो अब खंडहर बन चुका है यहां स्थित शूलिनी माता मंदिर और जटोली शिव मंदिर की भक्तों और पर्यटक को दोनों की यात्रा करना बेहद अच्छा माना जाता है। Manikaran Sahib Tourist places

इस शहर में मठों में सबसे ज्यादा प्रसिद्ध एक युंडुंग मठ प्रसिद्ध माना जाता है जिसे देखने के लिए पर्यटकों को सोलन की यात्रा के समय देख सकते हैं। यह मठ यहां का सबसे प्रसिद्ध माना जाता है। solan weather यहां का मौसम घूमने वाले पर्यटकों के लिए बेहद सुखद रहता है जिससे वह यहां की खूबसूरती यों को अच्छी तरह से अनुभव कर सके। mmu solan (एमएमयू) महर्षि मार्कंश्वर विश्वविद्यालय कुमरहट्टी सोनल स्थित एक मेडिकल कॉलेज है इसे अस्पताल के रूप में भी जाना जाता है। weather solan यहां पर घूमने वाले पर्यटकों के लिए यहां की मौसम बहुत ही आनंद देते हैं। weather in solan यहां के मौसमों में समय के अनुसार बदलाव होता है परंतु यहां पर पूरे साल ठंड का ही मौसम रहता है। solan himachal pradesh (सोनल हिमाचल प्रदेश) का सबसे प्रसिद्ध पर्यटन स्थल के रूप में जाना जाता है। Manikaran Sahib Tourist places

juit solan | जूट सोलन

हिमाचल प्रदेश कौशल विकास निगम सोलन में जूट उत्पादन का निर्माण पर पांच दिवसीय परीक्षण कार्यक्रम शुरू किया है परीक्षण कार्यक्रम का शुभ आरंभ उपयुक्त सोलन कृतिका कुल्हरी के द्वारा किया गया। उन्होंने कहा कि निगम द्वारा युवाओं को स्वाबलंबी बनाने के लिए समय-समय पर विभिन्न प्रतिशत कार्य आयोजन किया जाएगा इसमें 120 प्रतिभागियों को जूट से निर्मित होने वाले उत्पादन ओं का परीक्षा दिया जाएगा कार्य के प्रथम चरण में 60 प्रतिभागियों किया गया है। Manikaran Sahib Tourist places

solan hotels

Niraamaya Retreats Suryavilas, Solan

Mayur Hotel

surya vilas solan

Savoy Greens, Jabli

Winsum Hill

Andaz Shimla

Sherpa Eco Resort

Tag Resorts Garden Courts

M G Regency Hotel

Banjara Mountain Retreat Chail Hills

Misty Meadows Resorts

सोलन शहर हिमाचल प्रदेश राज्य का सबसे प्रमुख शहर है जिसका नाम देवी शूलिनी के नाम पर रखा गया है जिन्होंने देवी दुर्गा की सबसे छोटी बहन है यहां वार्षिक उत्सव जून के अंतिम महीने में मनाया जाता है। पौराणिक कथा के अनुसार देवी शूलिनी सोलन के गंज बाजार में स्थित माता दुर्गा मंदिर मैं अपनी बड़ी बहन देवी दुर्गा के दर्शन करते हुए हैं। इस उत्सव में हजारों लोग ने रंग बिरंग परिधान पहने हुए शूलिनी मंदिर मैं अपनी श्रद्धांजलि अर्पित करते हैं और इसके बाद शुभ शोभायात्रा में शामिल होते हैं यह जुलूस बहुत असाधारण तरीके से सोलन के सभी हिस्सों से होकर गुजरती है तीन दिवसीय उत्सव के बाद देवी शूलिनी अपने स्थान पर वापस लौटती है अंतिम दिन भी उत्सव धूमधाम शो के साथ मनाया जाता है यहां पर दर्शन के लिए दूर-दूर से श्रद्धालु आते हैं। solan temperature यहां का तापमान समय के अनुसार बदलते रहता है यहां जून के समय में हल्की ठंड रहती है अन्यथा हल्की गर्मी का एहसास होता है। solan pin code 173212

यहां पर आने वाले पर्यटक रुकने के लिए होटल्स में रुकते हैं और यहां के होटल्स बहुत खूबसूरत और बहुत सारी फीचर्स के साथ रहती है। hotels in solan यहां पर होटल मैं पर्यटकों को अच्छी तरह से देखरेख करते हैं और यहां के स्वादिष्ट भोजन ओं का भी आनंद देते हैं। Manikaran Sahib Tourist places

सोनल के पास के प्रमुख पर्यटन स्थल | places to visit in solan

  • चैल
  • कसौली
  • शूलिनी माता मंदिर
  • कुथार का किला
  • अर्की
  • सिरमौर
  • बरोग
  • जवाहर पार्क
  • नालागढ़ किला
  • जगह दरलाघाट
  • मजथल अभयारण्य

sangla | सांगला

sangla
sangla

sangla valley (सांगला घाटी) हिमाचल प्रदेश के किन्नौर जिले की सबसे खूबसूरत आकर्षक घाटियों में से एक माना जाता है। जो शहरों की हलचल से दूर शांत का अनुभव प्रदान करती है। यह स्थान उन पर्यटकों के लिए है जो शांत वातावरण का आदर्श स्थान के लिए खोज में रहते हैं। सांगला घाटी अपने पहाड़ों की ढलान ओ सदाबहार जंगलों और बर्फ से ढकी चोटियों के लिए अपने लाल सेब के बाग और स्वादिष्ट चेरी के पैरों के लिए प्रसिद्ध माना जाता है। जिसकी वजह से यह बड़ी संख्या में पर्यटकों की अपनी तरफ आकर्षित कर लेती है यह करसन घाटी कैंपिंग के लिए भी प्रसिद्ध मानी जाती है। सांगला घाटी तक दुनिया की सबसे खतरनाक पहाड़ों में से एक से पहुंचना यात्रा को ज्यादा रोमांचक बनाता है। इन सभी के अलावा या घाटी मंदिर और किले से लेकर आसपास की गांव तक कई आकर्षण स्थल है। अगर आप सांगला घूमने की योजना बनाते हैं तो यहां के आसपास के प्रमुख पर्यटन स्थल को एक बार अवश्य घूमे। sangla weather यहां पर घूमने वाले पर्यटकों के लिए यहां का मौसम बहुत ही अनुकूल रहता है। sangla temperature (सांगला तापमान) यहां का तापमान समय के अनुसार बढ़ता घटता रहता है।

sangla himachal pradesh | सांगला हिमाचल प्रदेश

सांगला का एक बहुत ही खूबसूरत जगह है जहां आप हर जगह तरह तरह के पेड़ और फूलों को लगाते हुए देखे जा सकते हैं। सांगला घाटी में फैली हरी-भरी भूमि के साथ रंग-बिरंगे पेड़ पौधे देखने के लिए मिलता है यह एक अपने आप में अद्भुत दृश्य है। यहां के सुंदर पेड़ पौधे और फूल घाटी ज्यादा सुंदर बनाते हैं। यहां के ताजे फलों की प्रचुरता सांगला घाटी को सबसे ज्यादा खास बनाती है। यहां पर अक्टूबर के महीने में सांगला में सेब के भागों का मौसम रहता है। यहां कई लोग सेव को अपने खेतों में गाते हैं और यहां अखरोट और खुबानी जैसी कई अन्य स्वादिष्ट फलों पाए जाते हैं। सांगला घाटी के मध्य से स्वच्छ वास्पा नदी बहती है जो किसानों के लिए सिंचाई का मुख्य स्रोत है ‌। यहां पर जो भी फल उगाए जाते हैं वह किसी भी तरह की रसायन से इनफेक्टेड नहीं होते हैं बल्कि एकदम ताजा और खाने में काफी स्वाद रहता है।

hotels in sangla

Hotel Batseri SANGLA

Eskape Camps

Kinner Camp Sangla

Sattva Pine Resort

Apple Orchard Farm and Camping

Ibex Camp

banjara camps sangla

Hotel Rock View

Nargu Camp & Adventure

places to visit in sangla

  • सांगला मेदो
  • बेरिंग नाग मंदिर
  • कल्पा
  • कमरू किला
  • बाटसेरी गाँव
  • बसपा नदी
  • रक्छम
  • चितकुल

Famous Food sangla | प्रसिद्ध भोजन सांगला

Manikaran Sahib Tourist places
Manikaran Sahib Tourist places

सांगला उत्तर भारतीय राज्य हिमाचल प्रदेश में प्रमुख पर्यटन स्थल के रूप में स्थित है। यहां पर उत्तर भारतीय व्यंजन प्रदान करते हैं यहां बड़ी संख्या में पौधों के निवास के साथ ज्यादातर को धागों के तिब्बती व्यंजन जैसे थुकपा, मोमोज और पकौड़ी इत्यादि उपलब्ध रहते हैं इसके अलावा थाली के विकल्प काफी सीमित रहती है।

Best time to visit sangla | सांगला घूमने का सबसे अच्छा समय

सांगला की जलवायु साल भर काफी सुखद रहता है लेकिन सर्दियों के दौरान यहां पर थोड़ी कठिनाई हो जाती है इसके अलावा गर्मियों में भी ज्यादा गर्मी नहीं होती है जिस्म काल के दौरान यहां का तापमान 8 डिग्री सेल्सियस से 30 डिग्री सेल्सियस के बीच रहता है घाटी में मॉनसून के मौसम में कम वर्ष होते हैं सर्दियों के मौसम में 10 डिग्री सेल्सियस से -10 डिग्री सेल्सियस के बीच का तापमान रहता है अगर आप सर्दियों में यहां आते हैं तो आपको अपने साथ बूलेन लेकर यात्रा करें।

How to reach sangla | कैसे पहुंचे सांगला

यदि आप सांगला घाटी में यात्रा के लिए जा रहे तो हम आपको बता दें कि यहां पर कोई हवाई अड्डा या रेलवे स्टेशन मौजूद नहीं है संज्ञा का निकटतम रेलवे स्टेशन कालका रेलवे स्टेशन है जो दिल्ली चंडीगढ़ और शिमला से नियमित समय से ट्रेन मिलती है। यदि आप फ्लाइट के माध्यम से यात्रा करना चाहते हैं तो हम आपको बता दें कि यहां के सबसे निकटतम हवाई अड्डा शिमला में जुब्बारहट्टी हवाई अड्डा है जो कि यहां से लगभग 238 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। यदि आप सड़क मार्ग के माध्यम से यात्रा करना चाहते हैं तो हम आपको बता दें कि एचआरटीसी (हिमाचल रोड ट्रांसपोर्ट कॉरपोरेशन) दिल्ली हरियाणा और पंजाब से सांगला के लिए नियमित बसें चलती है इसके साथ सांगला के लिए चंडीगढ़ से राज्य बस आसानी से मिल जाती है यदि आप अपनी निजी वाहन के माध्यम से यहां तक आना चाहते हैं तो आप आसानी से यहां तक पहुंच सकते हैं। shimla to sangla लगभग 220.1 किलोमीटर की दूरी पड़ता है। chandigarh to sangla लगभग 310.5 किलोमीटर की दूरी पड़ता है।

Mashobra Tourist places & Famous Food

निष्कर्ष

तो दोस्त आज हम इस पोस्ट में हिमाचल प्रदेश के सांगला, सोलन, मणिकरण साहिब और शोजा शहर के बारे में जाने। और यहां के पर्यटन स्थलों के बारे में भी जाने यदि आपको यह पोस्ट अच्छी लगी हो तो आप हमें कमेंट बॉक्स में कमेंट करके जरूर बताएं। और अपने दोस्तों के साथ शेयर करना ना भूले तो दोस्त बने रहिए टूरिज्म प्लेस के बारे में जानने के लिए मिलते हैं अगले पोस्ट में। यदि आप इन सभी जगहों के यात्रा के लिए लिस्ट बना रहे तो आपकी यात्रा कुशल मंगल हो। धन्यवाद

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!