No menu items!

Jabalpur places & Famous Food

मध्य प्रदेश के प्रमुख पर्यटन स्थल जबलपुर के धार्मिक स्थल के बारे में जानेंगे और यहां के प्रसिद्ध भोजन आने-जाने की सुविधा के बारे में भी जानेंगे तो दोस्त बने रहिए टूरिज्म प्लेस के बारे में जानने के लिए।

pisanhari ki madiya | पिसनहारी की मढ़िया

pisanhari ki madiya
pisanhari ki madiya

पिसनहारी की मढ़िया जनपद का एक जाना माना तीर्थ स्थल के रूप में है। यह जैन मंदिर नेताजी सुभाष चंद्र बोस मेडिकल कॉलेज के पास स्थित एक प्रमुख पर्यटन स्थल के रूप में जाना जाता है। अपने वास्तुकला और सुंदरता के लिए जाना जाने वाला यह 500 साल पुराना पर्यटक स्थल सर्वाधिक घूमने जाने वाले जगहों में से एक माना जाता है। पिसनहारी की मढ़िया एक पौराणिक कथा के अनुसार इस मंदिर का निर्माण एक गरीब महिला द्वारा एक पवित्र जैन सन्यासी की वाणी सुनने के बाद किया था। उस सन्यासी की वाणी उस महिला को विशाल मंदिर बनाने की प्रेरणा मिल गई थी। इस मंदिर मैं कई पत्थर है जिसे उस महिला ने रखा था उस महिला के संपन्न और संकल्प को प्रदर्शित करने के लिए वह पत्थर आज भी उसी स्थान पर रखा हुआ दिखाई देता है। उसी महिला को श्रद्धांजलि देने के लिए इस मंदिर का नाम पिसनहारी की मढ़िया रखा गया। इस नाम का अर्थ एक ऐसी महिला जो हाथों से चक्की में आटा पीस रही है आसपास के खूबसूरत दृश्य से घिरे इस मंदिर में हर साल सैकड़ों श्रद्धालु दर्शन के लिए आते हैं। Jabalpur places

यह मंदिर जबलपुर के दर्शनीय स्थलों में से एक मानी जाती है। पिसनहारी की मढ़िया मंदिर सुभाष चंद्र मेडिकल कॉलेज के पास एक पहाड़ी क्षेत्र में हरे भरे जंगलों के बीच में बनाई गई है जो कि यह स्थान एक प्रमुख पर्यटन स्थल के रूप में जाना जाता है। पिसनहारी की मढ़िया जबलपुर का एक शानदार जैन मंदिर के रूप में जाने जाते हैं। यह जैन मंदिर जैन धर्म के दिगंबर संप्रदाय द्वारा प्रतिष्ठित मंदिर है। और यह मंदिर लगभग 500 साल पुरानी मानी जाती है। इस मंदिर में लगभग 150 सीढ़ियां बनाई गई है मंदिर तक जाने के लिए। यह मंदिर यहां का सबसे प्रसिद्ध और पवित्र मंदिर माना जाता है और यहां के हरे-भरे पहाड़ियों से घिरे जगह देखने में काफी सुंदर और पर्यटकों को आकर्षित करता है। यहां की खूबसूरती पर्यटकों को मंत्रमुग्ध कर देते हैं। यदि आप यहां पर घूमने के लिए आते हैं तो यहां की खूबसूरती यों का आनंद अवश्य लें और यहां के आसपास के प्रमुख पर्यटन स्थल का भ्रमण जरूर करें क्योंकि इसके आसपास कई सारे प्रमुख पर्यटन स्थल है जो कि इसकी खूबसूरती में चार चांद लगा देती है। यहां पर घूमने के लिए दूर-दूर से पर्यटक आते हैं और यहां की खूबसूरती यों का आनंद लेते हैं।

dumna nature reserve park | डुमना नेचर रिजर्व पार्क

यह पार्क जबलपुर शहर से लगभग 10 किलोमीटर दूरी पर स्थित एक प्रमुख पर्यटन स्थल के रूप में जाना जाता है। यहां पर प्राकृतिक और वन्यजीव में रुचि रखने वाले के लिए यह एक आदर्श जगह हो सकती हैं। डुमना एयरपोर्ट के रास्ते में पड़ने वाला यह रिजर्व लगभग 1058 हेक्टेयर क्षेत्र में फैला हुआ है। अगर आप जंगल के शेर पर निकलेंगे तो आप कई तरह के जानवर देखने को मिलेंगे। हालांकि इसके लिए आपको वन विभाग के अधिकारियों का अनुमति लेना पड़ता है। यहां पर कई प्रजाति के पक्षी के अलावा यहां पर हरिन जंगली सुगर, सियार, चीता, शाही और बंदर जैसे पशु आसानी से देखने के लिए मिल जाता है। डुमना नेचर रिजर्व परिवार के साथ घूमना और पिकनिक मनाने का एक बेहतरीन स्थान माने जाते हैं। यह जगह को बेहतर बनाने के लिए मध्यप्रदेश सरकार के यहां ट्रैकिंग फिशिंग और जंगल के कैंप की सुविधा भी मुहैया कराई हुई है। हालांकि डुमना झील में तेरा की करना पूरी तरह से प्रतिबंधित किया गया है। Jabalpur places

dumna nature reserve | डुमना नेचर रिजर्व पार्क

जबलपुर में घूमने के लिए यह रिजर्व पार्क एक लोकप्रिय इको टूरिज्म साइट है। जबलपुर में पर्यटन के लिहाज से पर्यटकों के लिए एक शानदार डेस्टिनेशन प्रदान करती हैं। यहां की खूबसूरती पर्यटकों को मंत्रमुग्ध कर देती है। यह खूबसूरती पार्थ समृद्धि वनस्पति जीव और विभिन्न प्रकार के पर जातियों की मौजूदगी का दावा करते रहती है। इन सभी के अलावा यहां के मनोरंजन गतिविधियों में शामिल तैराकी, मछली पकड़ना, टॉय ट्रेन की सवारी का आनंद ले सकते हैं। यहां की खूबसूरतीओं का आनंद लेने के लिए दूर-दूर से पर्यटक आते हैं और यहां की खूबसूरती  का आनंद उठाते हैं। यह पार्क जबलपुर से लगभग 40 मीटर ऊपर एक पठार पर लगभग 18 एकड़ वन भूमि पर फैली हुई है। खंदारी झील के जल ग्रहण क्षेत्र के रूप में कार्य करने के लिए इसे प्रांतीय सरकार द्वारा जुबुलपुर के नगर सीमित में स्थानांतरित कर दिया था। फिर आगे चलकर फरवरी 1883 में खंदारी बांध का निर्माण जे एच मॉरिस मध्य प्रांत और बरार के मुख्य आयुक्त हैं। Jabalpur places

तब से वनाच्छादित क्षेत्र जलाशय को दिखाने के लिए वर्षा जल प्रदान करता है। यह जंगल बुक पर्णपाती  प्रकार का है। मध्य भारतीय मिश्रित वनों की विशिष्ट रूप है। यह देसी पैरों, पौधों, झाड़ियों, जड़ी बूटियों, लता, पर्वतारोहियों और घास की कई प्रजाति यहां पर देखने के लिए मिलता है। इस पार्क में कई गतिविधियों का भी आनंद ले सकते हैं। यहां पर घूमने के लिए दूर-दूर से पर्यटक आते हैं और यहां की खूबसूरती को देखकर आनंद उठाते हैं। यह पार्क पर्यटकों के लिए एक आकर्षण का केंद्र हैं। जबलपुर घूमने घूमने के लिए जाते हैं तो जबलपुर से कुछ ही दूरी पर या पार्ट 1 समृद्धि लेकर बैठी हुई है जो पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करती है। आप जबलपुर घूमने के लिए जाते हैं तो इस पार्क में एक बार अवश्य भ्रमण करें और यहां की सुंदरता को जरूर देखें इस पार्क में बहुत सारी जीव जंतु पशु पक्षी देखने के लिए मिलता है और यहां पर वोटिंग की भी सुविधा उपलब्ध रहती हैं। Jabalpur places

tilwara ghat | तिलवारा घाट

tilwara ghat
tilwara ghat

यह घाट जबलपुर के इतिहास में विशेष महत्व दिया गया है। तिलवारा घाट नर्मदा नदी के किनारे स्थित एक प्रमुख पर्यटन स्थल के रूप में जाने जाते हैं। यही वह जगह है जहां महात्मा गांधी की राख को विसर्जन किया था। उनके श्रद्धांजलि स्वरुप यहां एक गांधी स्मारक भी बनाया गया है। आजादी की लड़ाई के दौरान गांधीजी ने तीन बार जबलपुर में रुके थे। और निष्ठापूर्वक इस घाट का भ्रमण किए थे। तिलवारा घाट को गंगा नदी जितना पवित्र है उतना ही इसे भी पवित्र माना जाता है। यहां पर हर साल लाखों श्रद्धालु असलम के लिए आते हैं। तिलवारा घाट पर 1939 मैं लोकमान्य तिलक के एक विशाल जनसमूह को संबंधित भी किया था। तब से इस स्थान को तमिल भूमि के नाम से भी जाने जाते हैं। इसके अलावा राजनीतिक के क्षेत्र से जुड़ी कई बड़ी हस्तियों ने भी इस स्थान का भ्रमण किए थे। जिससे इसका महत्व और बढ़ गया है। यह घाट जबलपुर में देखने लायक स्थानों में से एक आकर्षित स्थान है। तिलवारा घाट जबलपुर में नर्मदा नदी के तट पर एक प्रमुख पर्यटन स्थल रूप में जाने जाते हैं। और यह घाट यहां के सबसे महत्वपूर्ण घटनाओं में से एक माना जाता है। घाट पर कई मंदिर के अलावा यहां पर सिद्ध आकर्षण स्मारक की चट्टान भी मौजूद हैं। जो सबसे खास जबलपुर का प्रसिद्ध धुआंधार जलप्रपात इसके पास ही स्थित है। Jabalpur places

bhawartal garden jabalpur | भंवरताल गार्डन जबलपुर

bhawartal garden jabalpur
bhawartal garden jabalpur

यह गार्डन जबलपुर शहर का एक प्रमुख पर्यटन स्थल है। या गार्डन जबलपुर शहर के बीचोंबीच में स्थित है। आप इस गार्डन में घूमने के लिए आ सकते हैं और इस गार्डन में आप अपनी फैमिली और दोस्तों के साथ समय बिताने के लिए भी आ सकते हैं। इस गार्डन में पर्यटकों को ₹5 का एंट्री फीस लिया जाता है ₹5 देकर इस गार्डन में प्रवेश कर सकते हैं पूरे गार्डन में एक मानव निर्मित झील को बनाया गया है इस जेल में फव्वारा शाम को चालू किया जाता है। और फव्वारें मैं खूबसूरत लाइट लगाई गई है जो फव्वारे पर पढ़ती है और देखने में बहुत ही खूबसूरत लगता है। भंवरताल गार्डन के बीचो-बीच रानी दुर्गावती की मूर्ति स्थापित की गई हैं। रानी दुर्गावती की मूर्ति घोड़े पर सवार प्रतिमा बनाई गई है और तलवार हाथ में लिए हुए हैं। यहां मूर्ति एक ऊंचे चबूतरे पर है। यह मूर्ति बहुत ही खूबसूरत देखने में लगता है यहां पर रानी दुर्गावती के बारे में बताया गया है आप यहां के भ्रमण के समय दुर्गावती के बारे में जानकारी पा सकते हैं। भंवरताल गार्डन में एक छोटे से कैंटीन भी मौजूद है। कैंटीन में आपको खाने पीने के लिए वस्तु मिल जाती हैं यहां पर आप आकर स्वादिष्ट भोजन का आनंद भी ले सकते हैं। यह गार्डन बहुत ही बड़ी क्षेत्र में फैला हुआ है और जगह जगह पर बैठने के लिए सीमेंट के चबूतरे बनाए गए हैं। और यहां पर बच्चों के मनोरंजन के लिए झूला भी लगाया गया है जिससे बच्चे यहां पर मनोरंजन के लिए स्केटिंग की व्यवस्था भी है। Jabalpur places

जबलपुर में घूमने वाली जगह भंवरताल गार्डन यहां के ओल्ड नेपियर टाउन में जबलपुर शहर के मध्य में स्थित एक प्रमुख पर्यटन स्थल के रूप में है। यह आकर्षित भंवरताल गार्डन टॉय ट्रेंस, स्लाइड्स, झूलों और चारों और हरियाली से भरा हुआ है। या एक सार्वजनिक पार्क माना जाता है। यह पार्क में सुबह शाम योग शास्त्र का आयोजन और बुजुर्गों के घूमने के लिए उपयुक्त स्थान के रूप में जाने जाते हैं। इसके अलावा व्यापार शानदार पिकनिक स्पॉट के रूप में भी जानते हैं। यहां पर पर्यटक घूमने के साथ-साथ यहां पर मौज मस्ती के लिए पिकनिक भी मना सकते हैं। Jabalpur places

kankali devi temple | कंकाली देवी मंदिर

यह मंदिर जबलपुर का दर्शनीय स्थल कंकाली देवी मंदिर को गीत आवा मंदिर के नाम से भी जानते हैं। यह एक हिंदू धर्म से संबंधित है। जो कि जबलपुर के पास तिगावा नामक गांव में स्थित एक प्रमुख दर्शनीय स्थल के रूप में है। इस मंदिर में भगवान नरसिंह शेषशायी विष्णु और चामुंडा देवी की मूर्ति स्थापित किया गया है। या मंत्री यहां का सबसे पवित्र और प्रसिद्ध मंदिर माना जाता है।Jabalpur places

जबलपुर के प्रसिद्ध भोजन | Jabalpur famous food

Jabalpur famous food
Jabalpur famous food

जबलपुर के फेमस फूड की बात की जाए तो वहां के जैसे पर्यटन स्थल की देसी देखने में काफी सुंदर लगते हैं और वैसे ही जबलपुर के स्वादिष्ट भोजन का भी आनंद लेने में अच्छा लगता है। जबलपुर के स्वादिष्ट भोजन में सीख कबाब, साबूदाना की खिचड़ी, मालपुआ, मालपुआ रबरी, और चिकन समोसा यहां के स्वादिष्ट भोजन डिश है। आप जब भी जबलपुर की यात्रा पर जाए तो एक बार यहां के इन सभी देश को जरुर देखना ना भूलें। Jabalpur places

जबलपुर कैसे पहुंचे | how to reach Jabalpur

जबलपुर की यात्रा पर जाने वाले पर्यटक को को हम बता देना चाहते हैं कि जबलपुर फ्लाइट ट्रेन और बस मैं किसी का भी चुनाव करके आप आसानी से जबलपुर पहुंच सकते हैं क्योंकि यह पर्यटन स्थल सभी जगहों से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है। यदि आप फ्लाइट के माध्यम से जबलपुर पहुंचना चाहते हैं तो हम आपको बता दें कि जबलपुर शहर के केंद्र से लगभग 20 किलोमीटर दूरी पर जबलपुर का डुमना हवाई अड्डा स्थित है। जो देश प्रमुख शहरों के सबसे अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है। यदि आप ट्रेन के माध्यम से जबलपुर की यात्रा करना चाहते हैं तो हम आपको बता दें कि जबलपुर जाने के लिए रेल मार्ग का बहुत ही आसान ट्रिप है। जबलपुर रेलवे स्टेशन मुंबई हावड़ा इलाहाबाद मुख्य रेलवे लाइन पर स्थित है। जबलपुर रेलवे स्टेशन देश के प्रमुख शहरों से रेल लाइन के द्वारा बहुत अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है तो आप ट्रेन के द्वारा भी अपनी यात्रा आसान बना सकते हैं जबलपुर के लिए। Jabalpur places

यदि आप जबलपुर की यात्रा के लिए बस का चुनाव किए हैं तो हम आपको बता दें कि जबलपुर नियमित बस सेवाएं के द्वारा भारत के प्रमुख शहरों जैसे नागपुर इंदौर औरंगाबाद भोपाल पुणे और बंधवगढ़ से नियमित समय से आपको बस मिल जाते हैं और इन सभी जगहों से यहां के सड़क अच्छी तरह से जुड़ी हुई है जिसे आप यात्रा करने में कोई परेशानी नहीं होगी।

निष्कर्ष

तो दोस्त इस आर्टिकल में आपने जबलपुर के प्रसिद्ध पर्यटन स्थल के बारे में जानने और यहां के प्रसिद्ध भोजन आने-जाने की सुविधा के बारे में भी जाने। आपको हमारी यह आर्टिकल कैसा लगा हमें कॉमेंट्स करके जरूर बतायें। इसी तरह के टूरिस्ट प्लेस और प्रसिद्ध भोजन के बारे में जानने के लिए आप हमारे वेबसाइट से जुड़ी रहे।

Tattapani Tourist places & Famous Food

Related Stories

Discover

Best No1 Kolhapur Tourist Places & Famous Food

Kolhapur Tourist Places & Famous Food महाराष्ट्र के प्रमुख पर्यटन स्थल कोल्हापुर के बारे में...

Best No1 Visapur Fort Mumbai & Famous Food

Visapur Fort Mumbai & Famous Food मुंबई के प्रमुख पर्यटन स्थल के बारे में जानेंगे...

Best No1 Bhushi Dam Mumbai & Famous Food

Bhushi Dam Mumbai & Famous Food महाराष्ट्र राज्य के मुंबई में घूमने वाले लोनावाला प्रसिद्ध...

Best No1 Rajmachi Mumbai & Famous Food

Rajmachi Mumbai & Famous Food महाराष्ट्र के प्रमुख पर्यटन स्थल राजमाची किला और लोहागढ़ किला...

Best No1 Lonavala Fort Mumbai & Famous Food

Lonavala Fort Mumbai & Famous Food मुंबई के प्रमुख पर्यटन स्थल लोनावाला किले के बारे...

Best No1 lohagad fort Mumbai & Famous Food

lohagad fort Mumbai & Famous Food मुंबई के प्रमुख पर्यटन स्थल लोहागढ़ किला के बारे...

Popular Categories

error: Content is protected !!