Horse riding in Chail

No1 Best Chail Tourism Places & Chail Food

No1 Best Chail Tourism Places & Chail Food

हिमाचल प्रदेश के प्रमुख पर्यटन स्थल चैल के बारे में जानेंगे और चैल क्रिकेट मैदान के बारे में भी जानेंगे। और यहां पर करने वाली गतिविधियों जैसे हॉर्स राइडिंग और यहां के प्रमुख मंदिर के बारे में जानेंगे

chail cricket ground | चैल क्रिकेट मैदान

chail cricket ground
chail cricket ground

Chail Tourism Places  चैल हिमाचल प्रदेश के सोलन जिले में स्थित यह एक प्रमुख पर्यटन स्थल के रूप में जाना जाता है। यह समुद्र तल से लगभग 526 मीटर की ऊंचाई सध टिब पहाड़ी पर स्थित यह स्थान बहुत ही सुंदर है। लोर्ड़ किच्नर के आदेश अनुसार पटियाला के महाराजा अधिराज भूपिंदर सिंह ने शिमला से अलग कर दिए गए थे। इसका बदला लेने के लिए उन्होंने चैल को अपने ग्रीष्मकालीन राजधानी बनाकर यहां सुंदर चैल महल का निर्माण किया गया था। इस महल का निर्माण लगभग 1800 में हुआ था। और यह चैल की शाही विरासत है। इन सभी के अलावा चैल का वन्य जीव अभ्यारण जहां कई प्रकार के पेड़ पौधे पाए जाते हैं। चैल के प्रमुख आकर्षण का केंद्र बन गया है। इस अभ्यारण में कई वन्यजीव जैसी इंडियन मुन्टैक, तेंदुआ, कलगीदार साही, जंगली सूअर, और कई अन्य प्रकार के प्रजाति पाए जाते हैं। Chail Tourism Places 

चैल का क्रिकेट और पोलो मैदान समुद्र तल से लगभग 24 से 44 मीटर ऊंचाई पर स्थित है। या दुनिया का सबसे ऊंचा स्थित क्रिकेट मैदान के रूप में जाना जाता है। अब यह चैल सैन्य पाठशाला के अंतर्गत गुरुद्वारा साहिब काली का टिब्बा महाराजा महल यहां के प्रमुख पर्यटन स्थल है। यह ट्रैकिंग और फिशिंग के लिए उत्तम स्थान माना जाता है। यहां पर जाने के लिए आपको रोड मार्ग रेल मार्ग और हवाई मार्ग की सेवा उपलब्ध है। यहां पर घूमने का सबसे अच्छा समय मार्च और माइक के बीच है जब यहां सर्दियों होता है यहां का मधुर वातावरण गर्मियों में भी पर्यटक को अपनी और आकर्षित करता है। यहां पर अद्भुत दृश्य देखने के लिए मिलता है जो कि पर्यटकों को बहुत ही पसंद आती है। kali temple यहां के प्रसिद्ध काली मंदिर जो यहां पर दूर-दूर से पर्यटक दर्शन के लिए आते हैं। Chail Tourism Places 

palace hotel chail यहां पर घूमने वाले पर्यटकों के लिए बहुत सारी होटल उपलब्ध है जो वहां पर आसानी से रह सकते हैं। यहां के होटलों में पर्यटकों के लिए यहां के कर्मचारी स्वागत में खड़े रहते हैं। चैल मैं घूमने के लिए बहुत सारी पर्यटन स्थल है इन सभी के अलावा यहां पर बहुत सारे होटल और रिसॉर्ट्स की संख्या बढ़ती जा रही है तो यहां पर आने के लिए पर्यटकों को कोई कठिनाई नहीं होती है। यहां पर आप किसी भी समय होटल्स या रिजॉर्ट में रहने के लिए जा सकते हैं तो दोस्त चलिए अब हम जानते हैं इसके आसपास के होटल के बारे में कि कौन कौन से होटल मौजूद है। Chail Tourism Places 

Hotel Grand Sunset

  • Mint Tarika Resort
  • Chails Hamlet
  • Village Live In Resort
  • Hotel Jungle Livinn Chail
  • Mountain View Resort
  • Fernhill Resorts Chail
  • Vue Magique Resorts & Camps
  • Hotel Comfort Inn
  • Resort Extreme Village
  • Hotel Emerald Valley
  • Hotel Chail Inn
  • Snowdrop Eco Resort
  • Hotel Tavish
  • LivingStone Chail
  • LivingStone Eco Resort
  • Hotel Purnima
  • Ekant Vatika
  • Kanishka Retreat Resort Chail
  • Hotel Chail Residency

camping in chail

camping in chail
camping in chail
  • Jungle Stays
  • Snow Trails Camp
  • Welcomhotel by ITC Hotels, Tavleen, Chail
  • Ekant Retreat Resort
  • Treehouse Chail Villas
  • Maple Resort By Aamod, Chail
  • The Royal Swiss Cottage
  • Hotel Ekant

sadhupul lake | साधुपुल झील

यह हिमाचल प्रदेश में सोलन और चैल के बीच एक छोटा सा गांव में स्थित है। जो पहाड़ी नदी अश्विनी पर बने एक छोटे से पुल के साथ स्थित है। इसे 23 अगस्त 2014 को जब एक ओवरलोड ट्रक ने इस पर पास करने के लिए कोशिश किया था यह पुल ढ़ह गया था। फिर जाकर जनवरी में एक नए पुल का निर्माण और लोगों के बीच समर्पित किया गया है। sadhupul झील नीले रंग के लुप्त होने के लिए साधुपुल एक प्रमुख पर्यटन स्थल है। या एक खूबसूरत झील माना जाता है।

Horse riding in Chail
Horse riding in Chail

यह जेल रोमांटिक या परिवार के साथ समय बिताने के लिए एक सही जगह और ठंडी हवा वाले जगह है। यहां के पानी की लहर बहुत ही शांति प्रदान करती है। sadhupul chail यहां पर घूमने के लिए सबसे अच्छा समय जुलाई-अगस्त के मॉनसून के महीने माना जाता है। sadhupul camping यहां के जंगलों में रहने के लिए कैंप बनाए जाते हैं  Chail Tourism Places  जो कि वह रात में आसानी से रह सकते हैं और वहां के वातावरण का लाभ उठा सकते हैं। यहां के आसपास कई प्रमुख पर्यटन स्थल है जो कि आपको नीचे दिए गए हैं। चैलन मैं आप घूमने के दौरान कई गतिविधियों का आनंद ले सकते हैं। horse riding यहां का सबसे प्रसिद्ध माना जाता है। horse riding near me हॉर्स राइडिंग के पास कई प्रमुख पर्यटन स्थल भी है जहां पर पर्यटक घूमने के साथ-साथ हॉर्स राइडिंग का आनंद भी लेते हैं। Horse riding in Chail यहां का सबसे प्रसिद्ध स्थान है। horse riding images यहां के हॉर्स राइडिंग का दृश्य देखने में काफी सुंदर लगता है। हॉर्स राइडिंग के दौरान यहां पर लोग जुआ या बाजी भी लगाते हैं। बाजी लगाने वाले लोगों को जीतने के बाद 10 गुण ने पैसे दिए जाते हैं। Chail Tourism Places 

गोविंद सागर झील | Govind Sagar lake

या झील हिमाचल प्रदेश के सबसे प्रमुख पर्यटन स्थल के रूप में जाना जाता है या झील देश का तीसरा सबसे बड़ा झील माना जाता है। हिमाचल प्रदेश और यहां के अन्य उत्तर भारत राज्य जैसी राजस्थान हरियाणा और पंजाब के लिए यह जलप्रपात यहां के जीवन रेखा के रूप में काम करती है। यह जलप्रपात 1976 में मानवों के द्वारा निर्मित किया गया था। इस झील का स्रोत बकरा में हाइडिल बंद है। जो कि दुनिया के सबसे ऊंचे ग्रुप बांध में से एक माना जाता है। Chail Tourism Places 

गोविंद सागर झील यात्रा के समय विशाल भाखड़ा बांध को देखने में भी काफी खास अनुभव साबित होता है। जब भी आप झील की यात्रा करने जाते हैं तो इस बांध को जरूर देखने के लिए जाएं इसके अलावा नंगल बंध अपने दूसरे आधे भाग से भाखरा से 15 किलोमीटर नीचे है जिससे एक साथ बांध के रूप में जाना जाता है। यह जेल मछली पकड़ने के लिए प्रसिद्ध मानी जाती है। क्योंकि यहां पर 50 से अधिक प्रजातियों की मछली देखने के लिए मिलती है। Chail Tourism Places 

इस झील पर आप वाटर स्पोर्ट मुख्य रूप से वर्ष के कुछ महीने तक सीमित रहते हैं आमतौर पर अगस्त से जनवरी के महीने तक जब यहां की पानी का स्तर अच्छा होता है यहां पर नाव दौड़ने लगती है उसके बाद या वाटर एक्सपोर्ट के लिए मुख्य पर्यटन स्थल बन जाते हैं। गोविंद सागर झील की यात्रा आप साल में किसी भी महीने कर सकते हैं। यदि आप यहां की यात्रा करना चाहते हैं तो यहां के लोगों ने और विचित्र दृश्य को देखना पसंद करते हैं तो जून से अगस्त तक झील की यात्रा करना बेहद सुखद होगा क्योंकि इन महीनों में बारिश होती है और यहां वह समय है जब झील अपने रमणीय रूप में सबसे अच्छी दिखती है। यहां पर सितंबर से दिसंबर तक के महीने के दौरान जब झील का जल स्तर अच्छा होता है तो पर्यटन विभाग मनोरंजन गतिविधियों को बढ़ावा देने लगता है। इसीलिए अगर आप साहसिक खेल को पसंद करते हैं तो यहां पर आप वर्ष में किसी समय यात्रा कर सकते हैं। अब हम बात करेंगे यहां के सबसे प्रमुख पर्यटन स्थल के बारे में तो दोस्त बने रहिए टूरिज्म प्लेस के बारे में जानने के लिए। Chail Tourism Places 

Vyas Cave | व्यास गुफा

यह गुफा समतल नदी के तट पर स्थित है। जहां महाकाव्य महाभारत के लेख ऋषि व्यास तपस्या के दिन में यहां रहा करते थे। यह गुफा 610 मीटर ऊंचाई पर स्थित है। और यह सतलुज के बाएं किनारे पर स्थित है। इन गुफाएं की वजह से इस शहर को पहले व्यासपुर के नाम से जाना जाता था। अगर आप इतिहासिक में प्रेम रखते हैं तो आप इन गुफाओं को एक बार अवश्य देखें। यह गुफा एक बहुत अद्भुत दृश्य देखने को मिलता है। Chail Tourism Places 

Kandror bridge | कंदूर ब्रिज

यह ब्रिज कभी सतलज पर यह पुल कभी एशिया का सबसे ऊंचापुल हुआ करता था। यह पुल की ऊंचाई लगभग 80 मीटर है। जो कि दुनिया के सबसे ऊंचे पेड़ों में से एक है। इस पुल को बनाने में चूना पत्थर की चट्टानों से घिरा हुआ है। और यह नदी हिमालय के ग्लेशियर के पिघलाने के पानी के कारण जिस्म काल के दौरान कगार पर होती है। यहां पर ज्यादातर पर्यटक ग्रीष्म ऋतु के समय में घूमने के लिए आते हैं। Chail Tourism Places 

himalayan nature park | हिमालयन नेचर पार्क

himalayan nature park
himalayan nature park

इस पार्क को पार्क कुफरी नेशनल पाक भी कहा जाता है। यह पाक लगभग 90 हेक्टेयर में फैली हुई है। हिमालय वनस्पति और जीव ओं की एक विस्तृत श्रृंखला पाई जाती है जिसमें यहां पर कई अन्य पशु पक्षी देखने के लिए मिलता है। हिमालयन नेचर पार्क मैं 180 से अधिक पक्षियों की प्रजाति देखने के लिए मिलता है। और यहां पर रहने वाले विभिन्न प्रकार के जानवर का घर भी देखे जाते हैं। यहां पर आने वाले पर्यटक यहां के वन्य जीवो को देखकर बेहद आकर्षित हो जाते हैं। इस पार्क में आमतौर पर आप तेंदुए भोकने वाले हरिन हंगल कस्तूरी मृग और भूरे भालू जैसे जानवर देखने के लिए यहां पर मिलते हैं। या पार्थ जिस जगह पर स्थित है वह बर्फ से ढक है हिमालयन श्रेणी का शानदार दृश्य पेश करने वाली जगह है। यह अपने आप में पर्यटक को को इस पार की एक स्वतंत्र ट्रैक के लिए भी जाने जाते हैं। यहां पर इन सभी के साथ-साथ आप इस पार्क में कैंप भी लगा सकते हैं। तो दोस्त यहां के आसपास के जगहों के बारे में भी जान लेते हैं। Chail Tourism Places 

Mahasu peak Kufri | महासू पीक कुफरी

महासू पीक कुफरी के पास घूमने की सबसे अच्छी जगह में से एक माना जाता है। यहां के बारे में हम आपको बता दें कि यह पिक कुफरी का सबसे ऊंचा स्थान माना जाता है। यहां से आप कई लोग आने वाले दृश्य भी देख सकते हैं। जिनमें आप बद्रीनाथ और केदारनाथ पर्वतमाला भी देखने के लिए मिलता है। अगर आपको साहसिक काम करना पसंद करते हैं तो आप इसके बिंदु तक पहुंचने के लिए देवदार के घने जंगलों के बीच से होकर आपको पैदल यात्रा के दौरान जा सकते हैं। महासू सर्दियों के मौसम में स्काईंग में शुरुआती लोग के लिए एक अच्छे पर्यटन स्थल के रूप में जाने जाते हैं। यार रास्ता दूसरी स्काईंग दलालों की तुलना में काफी सुंदर है। यदि आप इस यात्रा के दौरान यहां पर स्थित नाग देवता मंदिर के भी दर्शन कर सकते हैं। यहां के इस मंदिर में पर्यटक यात्रा के दौरान आराम भी करते हैं और यहां के मंदिर में दर्शन के लिए भी जाते हैं। Chail Tourism Places 

रामगढ़ किला | Ramgarh font

यह किला यहां का सबसे प्रसिद्ध किलो में से एक माना जाता है। रामगढ़ किला के पास ऐतिहासिक स्मारक भी मौजूद है। इस किले का निर्माण राजा रामचंद्र द्वारा करवाया गया था। रामगढ़ किला की चोटी अद्भुत विशाली पहाड़ियों वाली पहाड़ी पर स्थित है। यह किला अभी तक एक ऐतिहासिक किला के रूप में जाना जाता है। यहां का होटल्स में बदलाव हो गया है मगर इस किला का बदलाव नहीं हुआ है। आधुनिकीकरण के स्पर्श से इस किले की वस्तु कला विशेषताएं जरा सा भी नष्ट नहीं हुई है यह किला नालागढ़ से लगभग 1 घंटे की दूरी पर स्थित है।

Famous food chail

Famous food chail
Famous food chail

यहां पर आप घूमने के दौरान यहां के स्वादिष्ट भोजन का आनंद भी ले सकते हैं। यहां पर यात्रा के दौरान यहां का प्रसिद्ध भोजन दाल रोटी सब्जी ग्रेवी यहां का प्रसिद्ध भोजन है। इन सभी के अलावा यहां का सबसे प्रसिद्ध भोजन जो कि यहां के आसपास किसी भी होटल में प्राप्त रहते हैं मोमोज, समोसे, ब्रेड पकोड़ा, छोला भटूरा यहां का प्रसिद्ध भोजन माना जाता है। Chail Tourism Places 

How to reach chail

यदि आप यहां पर घूमने जाने के बारे में सोच रहे हो तो आप यह भी सोचते होंगे कि हम किसके माध्यम से जाना सही होगा तो हम आपको बता दें कि यहां पर आने के लिए आपको रेलवे मार्ग हवाई मार्ग और सड़क मार्ग के माध्यम से यहां तक आसानी से पहुंच सकते हैं। Chail Tourism Places 

How to reach chail by flight

यदि आप चैल के यात्रा के दौरान आप हवाई जहाज से यात्रा करना चाहते हैं तो हम आपको बता दें कि यहां का सबसे निकटतम हवाई अड्डा जुब्बड़हट्टी में स्थित है। यह हवाई अड्डा चैल से लगभग 23 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है यहां पर जब आप पहुंच जाते हैं तो यहां से आप टैक्सी के माध्यम से चैल आसानी से पहुंच सकते हैं। Chail Tourism Places 

How to reach chail by train

यदि आप ट्रेन के माध्यम से यात्रा करना चाहते हैं तो हम आपको बता दें कि चैल के सबसे निकटतम रेलवे स्टेशन लगभग 88 किलोमीटर दूरी पर स्थित है। जो कालका रेलवे स्टेशन के रूप में जाना जाता है। या रेलवे स्टेशन कुछ प्रमुख शहरों से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है। इसीलिए यह चैल तक पहुंचने का आप यहां के लिए ट्रेन से यात्रा कर सकते हैं। यहां पर पहुंचने के बाद यहां से आप निजी वाहन के माध्यम से चैल तक आसानी से पहुंच सकते हैं। Chail Tourism Places 

How to reach chail by road

Chail Tourism Places
Chail Tourism Places

यदि आप सड़क मार्ग के माध्यम से यहां तक की यात्रा करना चाहते हैं तो हम आपको बता दें कि यात्रा करना आपके लिए काफी अच्छा होगा। क्योंकि दिल्ली से चैल आसानी से पहुंच सकते हैं। इन दोनों बीच की सफर की दूरी लगभग 8 घंटे की बस की यात्रा करनी होगी। इसके साथ दिल्ली चंडीगढ़ शिमला और चैल आसानी से पहुंच सकते हैं। हम आपको बता दें कि यहां तक पहुंचने के लिए बस से यात्रा करना सबसे अच्छा तरीका है। शिमला से चैल की दूरी लगभग 40 किलोमीटर है। Chail Tourism Places 

No1 Best Kasauli Tourism Places & Kasauli Food

निष्कर्ष

तो दोस्त आज हमने हिमाचल प्रदेश के प्रमुख पर्यटन स्थल चैल के बारे में जानने और यहां पर करने वाली गतिविधियों जैसे हॉर्स राइडिंग और यहां के प्रमुख मंदिर के बारे में जाने तो दोस्त यदि आपको यह पोस्ट अच्छी लगी हो तो आप हमें कमेंट बॉक्स में कमेंट करके बता सकते हैं तो दोस्त बने रहिए टूरिज्म प्लेस के बारे में जानने के लिए इसी तरह के नए-नए जगहों के बारे में आपके लिए लाता रहता हूं आप अपने दोस्तों के साथ पोस्ट को शेयर करना ना भूले। धन्यवाद

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!